ब्रेकिंग

शुक्रवार को अलविदा की विशेष नमाज अदा की गई

शुक्रवार को अलविदा की विशेष नमाज अदा की गई

By : संवाददाता: बिनोद कुमार झा
Jun 16, 2018
126

मुकद्दस माह रमजान के कल आखिरी शुक्रवार को अलविदा की विशेष नमाज अदा की गई। अलविदा की नमाज को लेकर जहां देश के मस्जिदों में साफ सफाई की तैयारियां हुई। वहीं प्रशासन ने भी व्यवस्था दुरुस्त करने के साथ-साथ देशभर में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मुस्तैदी बढ़ा दी । दिल्ली  समेत देशभर की मस्जिदों में अलग-अलग अलविदा की नमाज अदा की । वैसे तो गुरुवार को बिहार की राजधानी पटना उत्तर प्रदेश के लखनऊ से भी पुलिस के फ्लैग मार्च निकालने की भी खबर है । इसके साथ ही प्रदेश के लोगों ने भी अपनी मौजूदगी दर्ज कराई।

 अलविदा की नमाज में बड़ी तादाद में नमाजियों ने पहुंच कर नमाज अदा की देश-प्रदेश के लिए अमन-चैन दुआएं की गई । नमाज के दौरान किसी भी तरह की असुविधा न हो, इसके लिए राज्यों के प्रशासन ने संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करने के साथ समाज के सभी वर्ग के लोगों के साथ बैठक कर आपसी भाईचारे का सामंजस्य स्थापित करने की सलाह दी। सभी मस्जिदों के आसपास नगर पालिका प्रशासन की ओर से साफ-सफाई करायी गई। 

शुक्रवार को अलविदा की विशेष नमाज अदा की गई

जुमे की नमाज के कारण प्रदेश के कई शहरों के मार्ग पर दोपहर 12 से 2 बजे तक यातायात प्रभावित रही। कई शहर के मस्जिद कमेटियों ने नमाज के वक्त मस्जिद के समक्ष पुलिस बल तैनात करने का भी आवेदन दिया । जिससे मस्जिदों में नमाज को लेकर पुलिस प्रशासन की ओर से मस्जिदों के पास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए । मस्जिदों के बाहर गुरुवार की रात से पुलिस बल की तैनाती की गई थी। प्रसाशन की चौकसी से सभी शहरों के एसएसपी ने सभी थानेदारों को निर्देश दिया, कि वे नमाज से पहले मस्जिदों के पास तैनात रहें गश्त भी लगाएं। 

वहीँ आज ईद उल फितर का त्यौहार सादगी से पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। बच्चे, बूढे़, युवा हर वर्ग के लोगों के चेहरे पर ईद की खुशी दूर से ही झलक रही है। सेवइयों की मिठास ने लोगों के दिलों में बेहद मोहब्बत भर दी। लोगों का दोस्तों-रिश्तेदारों के घर आवागमन देर रात तक जारी रहेगा। 30 दिनों तक रोज़े व इबादत में पूरी तरह मशगूल मुसलमानों ने शनिवार को ईद उल फितर का त्यौहार पूरे जोशो खरोश से मनाया। सुबह फज्र की नमाज के बाद ही बच्चे, बूढ़े, जवान सभी ने नए कपड़े पहन कर मीठी-मीठी सेवाइयों का सेवन कर मस्जिदों व ईदगाहों की तरफ रूख किया। मुसलमानों ने ईद की नमाज अदा कर अल्लाह से मुल्क में अमन-शांति व खुशहाली की दुआएं मांगी। बच्चे टोलियां बनाकर बाजार में घूमने निकल पड़े। बड़ों से मिली ईदी से बच्चों ने जमकर खिलौने खरीदे, गोलगप्पे, पापड़, समोसे आदि का भी जमकर लुत्फ उठा रहे हैं। इसी तरह नमाज से पहले सभी मस्जिदों व ईदगाहों में तकरीर की गयी।
शुक्रवार की रात से ईद की बधाइयां देने का सिलसिला आज शनिवार को जारी है। लोगों के फोन लगातार घनघना रहे हैं। वहीं तमाम लोगों ने गले मिलकर ईद की बधाई देने को ही बेहतर समझा।
मुसलमान समुदाय के लोगों ने सपरिवार रिश्तेदारियों में पहुंच कर ईद की बधाइयां दी और दे रहे हैं। हर किसी के घर में सेवाइयों के अलावा कई तरह के पकवान बनाए गए थे। सेवाइयों के अलावा दही-फुल्की, छोले, बिरयानी, उड़द चावल आदि बना कर भी लोगों ने अपने प्रियजनों को दावत दी। युवाओं में तेजी से प्रचलित फेसबुक व व्हाट्स एप पर ईद की बधाइयों का सिलसिला शुक्रवार से ही शुरू हो गया था। शनिवार को भी ईद की बधाई के ढेरों मैसेज, फोटो भेजे गए। लोगों को दूर-दराज के दोस्तों-रिश्तेदारों को ईद की बधाई देने का यही सबसे बेस्ट तरीका नजर आया। अन्य वर्षों की मुकाबले इस वर्ष व्हाट्स एप पर बधाई संदेशों का आदान-प्रदान काफी अधिक हुआ। बड़ों के साथ ही बच्चों ने भी एक-दूसरे को गले मिलकर ईद की बधाई दी और मीठे पकवानों का लुत्फ उठाया रहें हैं।



Tags:
leave a comment



आज का पोल