ब्रेकिंग

महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों उच्च स्तरीय बहुराष्ट्रीय आयोजन।

महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों उच्च स्तरीय बहुराष्ट्रीय आयोजन।

By : Binod Jha
Dec 13, 2018
28

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल नई दिल्ली में चौथे भागीदार मंच का उद्घाटन किये । भारत सरकार ‘पार्टनरशिप फॉर मैटरनल, न्यू बोर्न एंड चाइल्ड हेल्थ’ (पीएमएनसीएच) के सहयोग से 12 और 13 दिसंबर 2018 को दो दिन के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन की है। इसमें 85 देशों के करीब 1500 प्रतिभागी हिस्सा लेंगे। सम्मेलन का उद्देश्य महिलाओं बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य और खुशहाली में सुधार के उपायों पर विचार की जा रही है।

महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों पर वैश्विक उपायों को बढ़ावा देने की कड़ी में यह चौथा उच्च स्तरीय बहुराष्ट्रीय आयोजन है। भागीदार मंच को गति प्रदान करने के हिस्से के रूप में ‘पार्टनरशिप फॉर मैटरनल, न्यू बोर्न एंड चाइल्ड हेल्थ’ (पीएमएनसीएच) के शिष्टमंडल ने आज प्रधानमंत्री से भेट की। इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने पीएमएनसीएच फोरम के संरक्षक के रूप में काम करने पर सहमति जताई। शिष्टमंडल में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री जे.पी.नड्डा, चिली के पूर्व राष्ट्रपति और पीएमएनसीएच के पूर्व बोर्ड अध्यक्ष डॉ. मिशेल बाचेलेट और जानीमानी अदाकारा तथा यूनीसेफ की सद्भावना दूत सुश्री प्रियंका चोपड़ा शामिल थीं।

भागीदार मंच एक वैश्विक स्वास्थ्य साझेदारी कार्यक्रम है जो सितंबर 2005 में शुरू किया गया था। इसका उद्देश्य बच्चों और माताओं की मृत्यु दर में कमी लाना तथा किशोरों, बच्चों, नवजात शिशुओं और माताओं के स्वास्थ्य में सुधार लाने के उपाय करना हैं। इसके सदस्यों में 92 देशों से 1000 से अधिक शिक्षाविद्, अनुसंधानकर्ता, शिक्षण संस्थान, दानकर्ता और फाउंडेशन, स्वास्थ्य देखभाल व्यवसायी, बहुराष्ट्रीय एंजेसियां, गैर सरकारी संगठन, भागीदार राष्ट्र, वैश्विक वित्तीय संस्थान और निजी क्षेत्र के संगठन शामिल हैं।

इस मंच के पिछले सम्मेलन जोहानिसबर्ग, दक्षिण अफ्रीका (2014), नई दिल्ली, भारत (2010) और दारेस सलाम, तंजानिया (2007) में आयोजित किये गए थे। यह दूसरी बार है जब भारत इसकी मेजबानी कर रहा है।  

पीएमएनसीएच मिशन का उद्देश्य विश्व स्वास्थ्य समुदाय की सहायता करना है ताकि वह स्थायी विकास लक्ष्यों, विशेष कर स्वास्थ्य से संबंधित स्थायी विकास लक्ष्यों को हासिल करने की दिशा में सफलता पूर्वक काम कर सकें।

भागीदार मंच के कार्यक्रम इसकी वैश्विक कार्यनीति के उद्देश्यों-जीना–फलना-फूलना और रूपातंरण से संबंधित होंगे। इसमें 6 प्रमुख विषयों पर ध्यान केंद्रित किया जायेगा जिनमें शैशवकाल, किशोरावस्था, स्वास्थ्य सेवाओं में गुणवत्ता, समानता और गरिमा, महिला सशक्तिकरण और बालिकाओं के स्वास्थ्य में सुधार शामिल है।



Tags:
leave a comment