ब्रेकिंग

रक्षा खरीद परिषद ने 3000 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी

रक्षा खरीद परिषद ने 3000 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी

By : Binod Jha
Dec 02, 2018
50

रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की अध्‍यक्षता में आज यहां हुई रक्षा खरीद परिषद की बैठक में करीब 3000 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी गई। मंत्रिमंडल की रक्षा समिति द्वारा अक्‍टूबर 2018 में चार पी1135.6 फॉलोऑन पोतों की खरीद के प्रस्‍ताव को मंजूरी दिए जाने के बाद रक्षा परिषद ने भारतीय नौसेना के दो युद्ध पोतों के लिए स्‍वदेशी तकनीक से निर्मित ब्रह्मोस मिसाइल की खरीद को मंजूरी दी। यह सुपर सोनिक क्रूज मिसाइलें पी1135.6 फॉलोओन पोतों की मुख्‍य शस्‍त्र प्रणाली में शामिल की जाएंगी।

रक्षा खरीद परिषद ने 3000 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी

रक्षा खरीद परिषद ने सेना के मुख्‍य युद्धक टैंक अर्जुन के लिए आर्मर्ड रिकवरी व्‍हीकल (एआरवीएस) की खरीद को भी मंजूरी दे दी है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन द्वारा डिजाइन और विकसित किए गए इस वाहन का निर्माण मेसर्स बी ई एम एल द्वारा किया जाएगा। एआरवीएस युद्ध क्षेत्र में टैंकों की मरम्‍मत का काम तेज गति और प्रभावी तरीके से करने में सक्षम है।

रक्षा खरीद परिषद ने 3000 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी

सेना से जुड़ी चिकित्‍सा सेवाओं पर सशस्‍त्र बल चिकित्‍सा सेवा महानिदेशालय का पहला सम्‍मेलन दिनांक 01 नोवेम्बर को यहां आयोजित किया गया। इसका मुख्‍य उद्देश्‍य सशस्‍त्र बल चिकित्‍सा सेवा के समक्ष मौजूदा चुनौतियों से निपटने के उपायों तथा चिकित्‍सा सेवा से जुड़े सैन्‍य अधिकारियों के अनुभवों का लाभ लेने के तरीकों का पता लगाना था। इस सम्‍मेलन में रक्षा चिकित्‍सा सेवा से जुड़े 34 पूर्व अधिकारी और मौजूदा वरिष्‍ठ अधिकारियों ने हिस्‍सा लिया।

रक्षा खरीद परिषद ने 3000 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी

वरिष्‍ठ कर्नल कमांडेंट एएमसी लेफ्टिनेंट जरनल बिपिन पुरी ने सम्‍मेलन में आये प्रतिनिधियों का स्‍वागत किया और सेना चिकित्‍सा कोर की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला।

सेना की चिकित्‍सा सेवा ईकाई का 250 वर्षों से भी ज्‍यादा पुराना गौरवशाली इतिहास रहा है। इसने न सिर्फ सेना को अहम् चिकित्‍सा सेवाएं उपलब्‍ध कराई हैं, बल्कि गुणवत्‍तायुक्‍त स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं में भी अग्रणी रहा है। 



Tags:
leave a comment



आज का पोल