ब्रेकिंग

नगालैंड के मुख्‍यमंत्री ने पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्री से मुलाकात कर कोहिमा हवाई अड्डा परियोजना पर वार्ता की

नगालैंड के मुख्‍यमंत्री ने पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्री से मुलाकात कर कोहिमा हवाई अड्डा परियोजना पर वार्ता की

By : Binod Jha
Aug 22, 2019
136

नगालैंड के मुख्यमंत्रीश्री नेफियू रियो ने वरिष्ठ अधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथआज केन्द्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय,कार्मिक,जन शिकायत एवं पेंशन,परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह से मुलाकात कर नगालैंड की राजधानी कोहिमा के "सेथु" में हवाई अड्डे की स्थापना के प्रस्ताव पर चर्चा की।

डॉ. जितेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री को बताया कि कोहिमा में हवाई अड्डा बनाने के प्रस्ताव को पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्रालय में गंभीरता से लिया जा रहा है और राज्य सरकार द्वारा उपयुक्त स्थल की पहचान किए जाने के बादभारतीयविमानपत्‍तन प्राधिकरण द्वारा एक तकनीकी व्यवहार्यता रिपोर्ट भी तैयार की गई थी, जो सभी प्रकार के मौसम के अनुकूलहवाई अड्डे के लिए उपयुक्‍त थी।
 

नगालैंड के मुख्‍यमंत्री ने पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्री से मुलाकात कर कोहिमा हवाई अड्डा परियोजना पर वार्ता की

श्री रियो ने पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्री को बताया कि हवाई अड्डा स्थापित करने पर अनुमानित रूप से लगभग 6,000 करोड़ रुपये कीकुल लागत आ सकती है और उन्‍होंने अनुरोध किया कि इसका एक हिस्सा पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकासमंत्रालय या पूर्वोत्तर परिषद (एनईसी) द्वारा वित्त पोषित किया जा सकता है। पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकासमंत्री ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके मंत्रालय द्वारा इस परियोजना के लिए 1,000 करोड़ रुपये की मंजूरी के लिए प्रस्ताव भेजा गया है।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी पूर्वोत्‍तर के आठों राज्यों, खासकर नगालैंड जैसे दूर-दराज के इलाकों कोबेहद प्राथमिकता देते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के निर्देश पर पूर्वोत्‍तर की सभी विकास परियोजनाओं को फास्ट-ट्रैक पर रखा गया है और इन परियोजनाओं को निर्धारित समय-सीमा के भीतर पूरा करने के लिए नियमित आधार पर इनका फॉलोअप किया जाता है।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने यह भी बताया कि केंद्र सरकार नगालैंड का समान विकास सुनिश्चित करने और साथ ही उग्रवाद से संबंधित घटनाओं का स्‍थायी समाधान तलाशने की बेहद इच्‍छुक है।



Tags:
leave a comment